VGA FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है VGA, पूरी जानकारी

Spread the love
  • 1
    Share

VGA Full Form in Hindi, VGA Ka Pura Naam Kya Hai, VGA क्या है, VGA Ka Full Form Kya Hai, VGA का Full Form क्या है,  VGA कैसे होता है, VGA क्या क्या कार्य होता है।आज इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

क्या है VGA?

दोस्तों, आप सभी ने कंप्यूटर का इस्तेमाल तो जरूर किया होगा। हमारे कंप्यूटर के पीछे एक नीले रंग की एक केबल होती है। उसी को VGA केबल कहा जाता है। क्या आपको पता है कि कंप्यूटर में कंप्यूटर में मौजूद अलग-अलग port का इस्तेमाल किसी अन्य डिवाइस को कंप्यूटर के साथ जोड़ने के लिए होता है। VGA की तरह कंप्यूटर में कई सारे port होते हैं। लेकिन आज हम आपसे VGA port के बारे में बात करेंगे।

1.) VGA जब हम सीपीयू और मॉनिटर को USB के द्वारा आपस में कनेक्ट करते हैं तो इसी के बल को VGA केबल कहा जाता है।  सरल भाषा मैं कहा जाए तो VGA का इस्तेमाल कंप्यूटर के मदरबोर्ड को कंप्यूटर डिस्प्ले के साथ जोड़ने के लिए किया जाता है।

2. इसके अलावा VGA port का इस्तेमाल कंप्यूटर, लैपटॉप, प्रोजेक्टर तथा HD टीवी में भी किया जाता हैं।

3. लेकिन अब नई तकनीको के आने से VGA पोर्ट का इस्तेमाल काफी कम होने लगा हैं। आजकल सभी कंप्यूटर और लैपटॉप में HDMI port का इस्तेमाल किया जाता है।

4. GVA एक डिस्प्ले हार्डवेयर होता हैं। सबसे पहले इसका उपयोग computer के IBM PS/2 Line के साथ किया गया था। यह हार्डवेयर 640×480 pixel resolution प्रदान करता हैं तथा साथ ही साथ 60 Hz और 16 रंगों की Referesh Rate प्रदान करता हैं।

5. VGA digital signals का भी स्तेमाल करता हैं तथा साथ ही साथ Analog Signals का भी इस्तेमाल करता हैं। इसका मतलब होता हैं। कम resolution स्क्रीन पर कम गुणवत्ता वाला प्रदर्शन करता हैं। 

6. यदि resolution 320×200 से कम होने पर 256 रंग दिखाए जाते हैं।  

तो दोस्तों, आप यह तो समझ गए होंगे कि VGA पोर्ट क्या है? आगे हम चाहेंगे कि VGA पोर्ट कैसे काम करता है और इसकी VGA full form क्या हैं।

VGA Full Form in Hindi

VGA :- “Video Graphics Array” होती हैं। यह एक डिस्प्ले इंटरफेस हैं। इसे 1987 में IBM ( International Business Machines) द्वारा विकसित किया गया हैं। VGA Full Form in Hindi

VGA कैसे काम करता हैं?

VGA Analoge का काम होता हैं सिग्नल को transfer करना जो कि मदरबोर्ड या ग्राफ़िक कार्ड से निकलते हैं।

1. मदरबोर्ड जा ग्राफिक कार्ड से निकले सिग्नल को VGA द्वारा मॉनिटर तक पहुंचाया जाता है। इसके लिए मॉनिटर और सीपीयू दोनों में VGA पोर्ट का होना आवश्यक होना जरूरी है।

2. VGA केबल में 15 pins होती हैं। जिसे तीन भागों में विभाजित किया गया है। यह pins समांतर श्रेणी में ना होकर थोड़ा आगे पीछे होते हैं।

3. VGA केबल दो तरह की होती हैं। जिसे male और female कनेक्टर कहा जाता हैं। male connector में pins होती हैं तथा female connector में इन pins को डाल कर पेच से कसना होता हैं।

दोस्तों, अब आप समझ गए होंगे कि VGA पोर्ट किस तरह से काम करता है। आइए जानते हैं कि VGA पोर्ट के फायदे और नुकसान क्या होते हैं।

WIFI Full From in Hindi? WiFI KA PURA NAAM

VGA का आकार

VGA अलग-अलग साइज की होती हैं। VGA केबल का सबसे छोटा साइज  0.75 फीट का होता हैं तथा सबसे बड़ा साइज़ 30 फीट से भी ज्यादा का होता है। VGA केवल दो कलर  Black & Beige में होती हैं। केवल अपने अपने आकार के हिसाब से अलग-अलग प्राइज़ की होती हैं। दोस्तों यह तो आपको पता ही हैं कि VGA में 15 pins होती हैंलेकिन कुछ पुरानी केबलो में सिर्फ 2 rows ही होती हैं। 15 pins वाली केबल में 15 pins को 3 अलग-अलग भागों में बांटा गया है। जैसे:- VGA Full Form in Hindi

Pin 1- Red Video

Pin 2- Green Video

Pin 3- Blue Video 

Pin 4- ID2/ RES 

Pin 5- GND Ground ( HSync) 

Pin 6- Red Return 

Pin 7- Green Return 

Pin 8- Blue Return 

Pin 9 – KEY/ PWR 

Pin 10- Ground ( VSync, DDC) 

Pin 11- ID0/ RES 

Pin 12- ID1/ SDA 

Pin 13- HSync 

Pin 14- VSync 

Pin 15-  ID3/SCL 

VGA पोर्ट के फायदे

1. VGA का एक बड़ा फायदा यह है कि यह पोर्ट आसानी से हर जगह उपलब्ध होता हैं। इसे आप आसानी से खरीद सकते हैं।

2. कुछ कंपनी अपने मॉनिटर के साथ ही VGA केबल फ्री में प्रदान करती हैं।

3. लेकिन अब digital केबल का इस्तेमाल होने लगा हैं।

4. VGA केबल बाकि सभी डिजिटल केबल से सस्ती होती हैं।

VGA के नुकसान

VGA के फायदे होने के साथ-साथ कुछ नुकसान भी हैं जिन्हें जाना आपके लिए जरूरी है।

1. VGA की एक बड़ी समस्या होती हैं ख़राब सिग्नल यानि जो सिग्नल ग्राफिक कार्ड और मदर बोर्ड द्वारा उत्पन्न किया जाता है वह सिग्नल मॉनिटर तक ठीक तरह से नहीं पहुंच पाता।

2. मॉनिटर तक सिग्नल ठीक तरह से ना पहुंचने के कारण पिक्चर क्वालिटी पर भी प्रभाव पड़ता हैं।

3. VGA सिर्फ RGB ( Red Green Blue) को ही सपोर्ट करता हैं।

4. VGA केबल का साइज बाकि के डिजिटल सिगनल केबल से ज्यादा बड़ी होती है। वर्तमान समय में HDMI केबल का अधिक इस्तेमाल किया जाता है जो VGA केबल से ज्यादा पतली और हल्की होते हैं।

5. डिजिटल केबल के अविष्कार की वजह से अब VGA केबल का चलन अब कम हों गया हैं। VGA केबल जैसे-जैसे पुरानी होती जाती है वैसे वैसे उसकी पिक्चर क्वालिटी और भी बेकार हो जाती हैं।

ओरिजिनल VGA केबल की निम्नलिखित स्पेसिफिकेशन है

  • 256 kB Video RAM
  • 16-color and 256-color paletted display modes.
  • 262,144-color global palette (6 bits, and therefore 64 possible levels, for each of the red, green, and blue channels via the RAMDAC)
  • Selectable 25.175 MHz or 28.322 MHz master pixel clock
  • Usual line rate fixed at 31.469 kHz
  • Maximum of 800 horizontal pixels
  • Maximum of 600 lines
  • Refresh rates at up to 70 Hz
  • Vertical blank interrupt
  • Planar mode: up to 16 colors (4-bit planes)
  • Packed-pixel mode: 256 colors (Mode 13h)
  • Hardware smooth scrolling support
  • No hardware sprites,
  • No Blitter, but supports very fast data transfers via “VGA latch” registers.
  • Barrel shifter
  • Split screen support
  • 0.7 V peak-to-peak
  • 75 ohm double-terminated impedance (18.7 mA, 13 mW)

निष्कर्ष :-

दोस्तों, हमारा लेख “VGA  full form in Hindi” में आपको  VGA के बारें में सभी प्रकार की जानकारी देने की पूरी कोशिश की गई हैं। उम्मीद हैं आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी होगी। यदि आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना भूलें। यदि आप इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। 


Spread the love
  • 1
    Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  

Leave a Comment