RNA Full Form In Hindi क्या है? | जानिए RNA की पूरी जानकारी

RNA Full Form in Hindi, RNA Ka Pura Naam Kya Hai, RNA क्या है, RNA Ka Full Form Kya Hai, RNA का Full Form क्या है,  RNA meaning, RNA क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

क्या आप RNA ka Full Form या आरएनए से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए इस पोस्ट पर आए हैं? तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं।RNA का पूरा नाम क्या है? RNA क्या होता हैं? इसकी खोज किसने की थी? इसके   प्रकार कितने होते है? यह कौन से महत्वपूर्ण कार्य करती है? RNA और DNA में अंतर क्या होती है? DNA क्या होता हैं? जैसे सवालो के जवाब  द्वारा 

 आज  हम इस पोस्ट मे RNAसे संबंधित सभी प्रकार के जानकारिया आपके समक्ष रखने वाले हैं बस आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

RNA FULL FORM IN HINDI क्या होता हैं?(full form of RNA?)

RNA का full form Ribonucleic Acid होता है, इसे हिंदी में राइबो न्यूक्लिक अम्ल भी कहते है। जिसकी खोज फ्रेडरिक् मिशर के द्वारा की गई थी।

RNA एक विशिष्ट प्रकार का एकल सूत्रीय नाभिकीय अम्ल (nucleic acid) होता हैं इसमें नाइट्रोजन base,फास्फेट और राईबोज सर्करा पाए जाते है। किसी भी जीवित प्राणी के शरीर में RNA भी उतनी ही भूमिका निभाता है जितना कि DNA। राइबो न्यूक्लिक अम्ल(RNA) शरीर में  DNA के जींस को नकल करके व्यापक रूप से प्रवाहित करने का कार्य करती है। इसके साथ ही यह कोशिकाओं में अन्य अनुवांशिक लक्षणों को पहुंचाने में सहायक होती हैं। 

RNA के कार्य(Function of RNA in hindi):-

Rribonucleic acid – RNA, जो की मुख्यत nucleic acids के बने होते हैं कोशिका के अंदर ढेर सारे कार्यों मे involve रहते हैं जैसे की–

  • प्रोटीन संश्लेषण को नियंत्रित करने के लिए DNA  से निर्देश लेने वाले प्रतिनिधि के रूप में कार्य करना है।
  • सभी जीवित कोशिकाओं में Genetic informations को एक पीढ़ी  से दूसरी पीढ़ी तक ले जाना ।
  • शरीर में नए प्रोटीन के निर्माण के लिए आवश्यक सही amino acid चुनने के लिए ribosome को बढ़ावा देना।
  • यह protein synthesis जैसे transcription, Decoding Regulation और जींस से संबंधित विभिन्न महत्वपूर्ण जैविक भूमिकाओ मे कार्य करना।

जैसे कई कार्य RNA के द्वारा सम्पन्न होते हैं।

RNA की खोज? (discovery of RNA):-

 नाभिकीय अम्ल (nucleic acid) के  मुख्यत दो  classes है– RNA तथा DNA । नाभिकीय अम्ल जिसकी खोज फ्रेडरिक मिशर ने 1868 मे nuclein के नाम से की थी। यानी की हम यह कह सकते हैं कि फ्रेडरिक मिशर ने RNA तथा DNA दोनों की खोज की थी।बाद मे अल्टमैन नाम के वैज्ञानिक ने1889 मे nucein से इसे nucleic acid नाम दिया जिसे आज इस नाम से जाना जाता है।

RNA की संरचना (structure of RNA):- 

RNA तथा DNA  polymer of nucleotide के बने होते हैं। Nucleotide मुख्यतः 3 component  से बने होते हैं 1) पेंटोसे शुगर 2)नाइट्रोजन base 3)फास्फोरिक एसिड।

1)पेंटोजे शुगर (pentose sugar):-

nucleotides मे दो प्रकार के पेंटोज शुगर पाए जाते हैं। एक है राइबोज(ribose)  जो की RNA मे पाए जाते है। और एक है डीऑक्सिराइबोस (deoxyrobose) जो की DNA में पाए जाते हैं।

2) नाइट्रोजन बेस(nitrogen base):-

नाइट्रोजन base को दो भागो में बाटा जाता हैं पहला purine (एडिनाइन, गुआनाइन दोनो purine  के अंदर आते हैं।) तथा दुसरा  pyrimidine (साइटोसाइन, टाइमिन, अरेसिल तीनों payrimidine के अंदर आते हैं।)।RNA – एडेनाइन, गुआनीन, साइटोसिन और अरेसिल नाईट्रोजन base के बने होते हैं वहीं DNA – एडिनाइन, गुआनिन, साइटोसाइन, अरेसिल के बदले थायमिन नाइट्रोजन बेस के बने होते हैं।

3) फास्फोरिक अम्ल (phosphoric acid):-

फास्फोरिक अम्ल H3PO4 के रूप मे शुगर के साथ reaction करके phosphodiest bond बनाते है।

RNA के प्रकार? (Types of RNA in hindi):- 

RNA मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं –

  1.  संदेशवाहक या दूत RNA(Messenger RNA or mRNA)
  2. अभिगमन या ट्रांसफर RNA(Transfer RNA or tRNA)
  3. राइबोसोमल RNA (Ribosomal RNA or rRNA)
  •  संदेशवाहक RNA(Messenger RNA or mRNA):-

 इसे संदेशवाहक (mRNA) या दूत RNA भी कहते हैं, mRNA केंद्रक में उपस्थित क्रियात्मक जिन के DNA के अनुलेखन से बनता है। DNA ट्रांसक्रिप्शन में यह एक आवश्यक कार्य करती है यह एक प्रकार का process  है जिसमें messenger RNA , DNA के एक छोर से लिपट जाता है, इसलिए इसका आधार अनुक्रम DNA template किनारे का complement होता है।

  • अभिगमन या ट्रांसफर RNA (Transfer RNA or tRNA):- 

इसे transfer या अभिगमन RNA भी कहते हैं। यह तीन प्रकार के RNA मॉलिक्यूल में सबसे छोटा होता है, tRNA कोशिका द्रव्य में उपस्थित अमीनो अम्ल के अणु को राइबोसोम तक ले जाने का कार्य करते हैं, इसलिए इसे transfer RNA कहते हैं ।और फ़िर राइबोसोम पर लगे mRNA पर यथास्थ जुड़कर अमीनो अम्ल अणुओ को पॉलीपेप्लाइड श्रृंखला में फिट कर देते है।

  • राइबोसोमल RNA(Ribosomal RNA or rRNA):- 

राइबोसोमल RNA राइबोसोम में होता है। RNA रचनात्मक अणु होते हैं जबकि mRNA तथा tRNA सक्रियआत्मक अणु होते हैं, इसी वजह से कोशिका में इनकी संख्या सबसे अधिक पाई जाती है। यह protein synthesis में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है क्योंकि यह अनुवाद के विभिन्न चरणों में Protein synthesis में mRNA और tRNA के साथ संपर्क करता है।

DNA का full form क्या होता हैं? (Full Form of DNA):-

DNA का पूरा नाम Deoxyribonucleic Acid होता हैं।DNA पादप विषाणु के अलावा लगभग सभी सजीवों में पाया जाने वाला अनुवांशिक पदार्थ हैं। जिसका पूरा नाम deoxyribonucleic acid होता है, इसमें डी ऑक्सी राइबो शर्करा पाया जाता है।DNA में अपने सामान नया DNA बनाने का गुण पाया जाता है, जिसे DNA की प्रतिकृति कहां जाता है।

DNA और RNA के बीच अंतर (Difference between DNA and RNA):- 

RNA और DNA मैं बहुत से अंतर पाए जाते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं-

  • DNA का पूरा नाम Deoxyribonucleic Acid  होता है, जबकि RNA का पूरा नाम Ribonucleic acid होता है।
  • DNA में डी ऑक्सी राइबो शर्करा होती  है जबकि RNA में राइबो शर्करा पाई जाती है।
  • DNA में थायमिन पाया जाता है जबकि RNA में यूरेसिल पाया जाता है।
  • DNA मुख्य केंद्रक में पाया जाता है जबकि RNA केंद्रक एवं केंद्रक द्रव्य दोनों में पाया जाता है।
  • DNA एक double stranded अणु है, जबकि RNA एक single stranded अणु है।
  • DNA ultraviolet ray से क्षतिग्रस्त हो सकता है लेकिन RNA पर इसका कोई प्रभाव नहीं देखा जाता  है।
  • DNA की base pairing AT और GC होती है लेकिन RNA की बेस पैरींग AU और GC होती है।
  • DNA लंबे समय तक क्रियाशील होते हैं जबकि RNA, DNA के मुकाबले कम समय तक क्रियाशील होते हैं।
  • DNA में हाइड्रोजन bond पाया जाता है लेकिन RNA  में हाइड्रोजन bond नहीं पाया जाता है।
  • DNA का कार्य माता-पिता के जींस को उनके बच्चों में ट्रांसफर करना होता है, जबकि RNA protein synthesis,tRNA mRNA को केन्द्रक से rer endoplasmic reticulum तक लाता है और mRNA प्रोटीन के type के code carry करता है।

Frequently Asked Questions

RNA कि खोज किसने की थी ?

RNA कि खोज फ्रेडरिक् मिशर के द्वारा की गई थी।

RNA कितने प्रकार के पाए जाते हैं?

RNA मुख्य तीन प्रकार के पाए जाते है।

क्या RNA ,DNA की तरह double stranded होते है?

नही! RNA single stranded होते है।DNA double stranded होते हैं।

Conclusion (निष्कर्ष):-

आज इस आर्टिकल में हमने RNA से संबंधित कई प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया । अगर आपने हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा हो तो अब तक आपको RNA  से संबंधित कई प्रकार की नई जानकारियां अवश्य प्राप्त हुई होंगी। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने मित्रों के साथ सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर शेयर करें (धन्यवाद)

यह भी पढ़ें:

OC Full FormDND Full Form
IPL Full Form In HindiRAS Full Form
CSC Full FormMST Full Form
DDO Full FormPDF Full Form
CCTV Full FormINC Full Form
ICS Full FormHD Full Form
EVS Full FormNBA Full Form
CCC Full FormAPL Full Form
DGO Full FormHIV Full Form
ASHA Full FormIG Full Form
EMAIL Full FormPOP Full Form
ASI Full FormMMS Full Form
VIP Full FormCCA Full Form
DEO Full FormUAE Full Form
LG Full FormATP Full Form
DMS Full FormIST Full Form
ITC Full FormBMC Full Form
RO Full FormPTO Full Form
GIF Full FormHVAC Full Form
EC Full FormWFH Full Form
IPHONE Full FormDC Full Form
FTP Full FormBDC Full Form
AIDS Full FormTDM Full Form
ADS Full FormINDIA Full Form
PAYTM Full FormRCB Full Form
ARMY Full FormDDT Full Form
KTM Full FormCM Full Form
PG Full FormDELL Full Form
PGT Full FormOK Full Form
HDMI Full FormPBKS Full Form
PAKISTAN Full FormDM Full Form
SP Full FormCBI Full Form
TC Full FormBff Full Form
VVF Full FormUPSC Full Form
DIG Full FormUSA Full Form
CMO Full Form

Leave a Comment