July 29, 2021
pdf full form

PDF FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है PDF, पूरी जानकारी

Spread the love
  • 1
    Share

नमस्कार दोस्तों आज में आप लोगो को बताएंगे की Pdf Full Form in Hindi, Pdf का Full Form क्या है,Pdf Ka Full Form Kya Hai,Pdf Ka Pura Naam,Kya Hai, Pdf meaning ,Whatsapp या Facebook में Pdf क्या होता है, ऐसे सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में मिल जायेंगे.

इस पोस्ट में हम PDF फुल फॉर्म के साथ PDF से जुड़े बहुत से बातें जानेंगे. मैंने यह पोस्ट इसलिए लिखने का सोचा क्यूंकि हम सभी को Pdf फाइल की कभी न कभी जरुरत तो जरुर पड़ती है. लेकिन ऐसा देखा गया है की लोगो को Pdf का फुल फॉर्म नही पता होता और शायद आपको भी नही पता होगा इसलिए आप हमारा यह पोस्ट अभी पढ़ रहे हो.

Pdf टेक्नोलॉजी का एक बेहतरीन उदहारण है क्यूंकि आज से 100 साल पहले किसी ने यह नही सोचा होगा की किसी दिन हम बिना बुक हाथ में लिए भी बुक पढ़ सकते है. आप Pdf फाइल को अपने मोबाइल, कंप्यूटर पर आसानी से पढ़ सकते हो. Pdf फाइल में टेक्स्ट और इमेज दोनों मोजूद होते है जिससे आपको ऐसा लगता है की आप वास्तव में कोई बुक हाथ में लिए पढ़ रहे हो.

PDF FULL FORM IN HINDI

Pdf Ka Full Form  Portable Document Format होता है. अब बात करते है यह Pdf क्या है? दोस्तों सीधे शब्दों में कहूँ तो Pdf एक तरह का डॉक्यूमेंट फाइल है जिसमे text, image, hyperlinks, embedded fonts, video आदि को रखा जा सकता है और जब चाहे उन्हें पढ़ा जा सकता है. एक्रोबेट कंपनी ने Pdf का निर्माण किया है.

आप Pdf फाइल को एडोब एक्रोबेट सॉफ्टवेर की मदद से बना सकते हो और एडोब रीडर सॉफ्टवेर की मदद से Pdf फाइल्स को पढ़ सकते हो वैसे आजकल बहुत से सॉफ्टवेर मोजूद है Pdf फाइल बनाने और पढने के लिए आप किसी भी सॉफ्टवेर का इस्तेमाल कर सकते हो. Pdf का इस्तेमाल मुख्यः डॉक्यूमेंट शेयर करने के लिए किया जाता है.PDF Full Form

Pdf फाइल को आप पासवर्ड से भी सुरक्षित कर सकते हो. आज ज्यादातर बुक्स आपको ऑनलाइन Pdf फॉर्मेट में मिल जाती है. Pdf फाइल का एक्सटेंशन .pdf होता है . आप Pdf फाइल को किसी भी डिवाइस में खोलो उसमे कोई बदलाव नहीं आता यह हर डिवाइस पर एक जैसा दिखाई देता है. आजकल बहुत से ब्राउज़र भी Pdf file  को सपोर्ट करते है है जैसे की chorme और फायरफोक्स. आजकल आपको बहुत से software भी ऑनलाइन मिल जायेंगे जिनसे आप PDF Format को किसी दुसरे फॉर्मेट में बदल सकते हो जैसे की HTML, SWF, MOBI,PDB, EPUB, TXT आदि.PDF Full Form

PDF का निर्माण कब हुआ:

पीडीऍफ़ Format आज के समय का नही है इसका निर्माण 1990 के आसपास ही हो गया था तभी से इसने डॉक्यूमेंट की दुनिया में क्रांति ला दी. इसके बाद 1993 में PDF बनाने वाली कंपनी Adobe ने इसका पहला Version 1.0 रिलीज़ किया और तब से अब तक यह काफी बार अपडेट हो चूका है.

जुलाई 2017 में PDF का नया Version 2.0 रिलीज़ किया गया जिसमे काफी नए खूबी देखने को मिले. 2008 के बाद Adobe ने एक Public Patent License पब्लिश किया जिसके अनुसार PDF अब किसी भी कंपनी, संस्था, लोगो द्वारा जैसे मर्ज़ी इस्तेमाल किया जा सकता है एक तरह से कहे तो PDF को Royalty Free कर दिया गया. आज के समय में PDF को दुनिया भर में इस्तेमाल किया जाता है और लोग इसे खूब पसंद भी करते है. आज के समय काफी डॉक्यूमेंट Format  मोजूद है

लेकिन लोग अभी भी PDF फाइल से ही डॉक्यूमेंट पढना पसंद करते है और सबसे ज्यादा इसी फाइल Format की मांग है. इसको इतना पसंद करने के पीछे सबसे बड़ा कारण यह है की लोग PDF में कोई भी डॉक्यूमेंट लिख और पढ़ सकते है. अगर आपको फ़ोन या कंप्यूटर पर कुछ लिखना हो तो आप PDF के मदद से उसे लिख सकते हो, अपने लिखे हुए Text को डिजाईन कर सकते हो और जरुरत अनुसार आपको लगे की इस जगह कोई photo होनी चाहिए वो भी उसमे डाल सकते हो. आप फिर चाहे उस Document को किसी को भेज सकते हो और अपनी बात उन तक पहुंचा सकते हो

GIF FULL FORM IN HINDI? GIF MEANING IN HINDI

PDF फाइल कैसे पढ़ सकते है:

अगर आपके पास कोई फ़ोन या कंप्यूटर है तो आप भी PDF फाइल को आसानी से पढ़ सकते हो और जान सकते हो उसमे क्या लिखा है. आजकल के Sarmtphone  में पहले से ही PDF रीडर मोजूद होता है अगर आप फिर भी PDF फाइल Open नही कर पा रहे तो Play store में PDF Reader लिख कर सर्च करे बहुत से application  आपको दिख जायेंगे जिससे PDF फाइल को पढ़ा जा सकता है.

अगर आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में PDF फाइल पढना चाहते है तो इसके लिए एक लोकप्रिय सॉफ्टवेर है इसका नाम Adobe Reader है. यह सॉफ्टवेर भी उसी कंपनी ने बनाया जिस कंपनी ने PDF का निर्माण किया था.

PDF की आवश्यकता क्यों पड़ी

देखा जाये तो फाइल्स के बोहोत सरे फॉर्मेट होते है चाहे वो MS WORD हो चाहे टेक्स्ट के रूप में हो चाहे इमेज के रूप में हो EXCEL शीट हो या फिर कोई अन्य तरह का फाइल फॉर्मेट हो, किसी भी तरह का डॉक्यूमेंट या फिर फाइल होता है उसको हम किसी अन्य उपकरण के अंदर उसको एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में भेजते है या कंप्यूटर से मोबाइल में भेजते है तो उनका जो फॉर्मेट है वो बदल सा जाता है क्युकी जरूरी नहीं की सरे कंप्यूटर में एक ही तरह का ऑपरेटिंग सिस्टम हो ये भी जरूरी नहीं की सरे कम्प्यूटर्स में एक ही तरह के फोंट्स इनस्टॉल किये गए हो इसलिए कही न कही फाइल का फॉर्मेट जो है वो बदल जाता है उसका डिज़ाइन बदल जाता है तो काफी तरह की परेशानिया देखने को मिलती है 

Conclusion

तो दोस्तों, आपको  के बारे में जानकारी हिंदी में। अच्छी लगी होगी हमे उम्मीद है इस पोस्ट को पढ़ कर आप PDF full form In Hindi (  PDF मीनिंग इन हिंदी) समझ गए होंगें और अब अगर आपसे कोई पूछेगा कि PDF का मतलब क्या होता है? तो अब आप उसे PDF मीनिंग इन हिंदी बता सकेंगे।

अगर आपको हमारा ये   PDF Information In Hindi पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share कीजिए और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल हो, तो उसे Comment में लिख कर हमें बताए।


Spread the love
  • 1
    Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *