July 29, 2021
mst full form

MST FULL FORM IN HINDI ? MST KA PURA NAAM

Spread the love
  • 1
    Share

MST Full Form in Hindi, MST Ka Pura Naam Kya Hai, MST क्या है, MST Ka Full Form Kya Hai, MST का Full Form क्या है,  MST meaning, MST क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

दोस्तों! यदि आप अब तक नहीं जानते कि MST full form in Hindi क्या है और इसके बारे में जानने के लिए काफी उत्साहित हैं तो हम आपके लिए इस आर्टिकल में MST full form in Hindi के साथ-साथ इसकी सभी जानकारी लेकर आए हैं जिसकी मदद से आप इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

MST full form क्या होता है? इसे जानने के लिए आप इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें क्योंकि यहां हमने MST full information in Hindi के बारे में संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई है। MST full form के अंतर्गत बताए गए प्रमुख विषय निम्नलिखित हैं –

1. MST का फुल फॉर्म क्या है?(Full Form Of MST in Hindi)

2. MST क्या है? (What Is MST in Hindi?)

3. MST का प्रयोग (Uses of MST in Hindi) 

1. MST का फुल फॉर्म क्या है? (MST FULL FORM IN HINDI)

MST के full form की बात करें तो बता दें कि MST का full form Monthly Season Ticket है। हिंदी में इसे मासिक सीजन टिकट कहते हैं।

2. MST क्या है? (What Is MST in Hindi?)

मासिक सीजन टिकट का मतलब होता है कि हम एक ही टिकट का एक ही महीने या किसी निश्चित समय अवधि में उस निश्चित  समय अंतराल के बीच उसका उपयोग । बिना भुगतान किए कई बार कर सकते हैं। हमें इस टिकट को एक ही बार बनाने पर उसका भुगतान कर देना होता है।

 हम ट्रेनों, बसों, थिएटरों या नियमित किसी भी तरह के खेल के प्रदर्शनों के लिए मासिक सीजन टिकट खरीद सकते हैं। मासिक सीजन टिकट वह टिकट होता है जिसका उपयोग करने के लिए हमें एक ही बार उसका भुगतान कर देना होता है। इसके बाद एक महीने तक हम उस टिकट का उपयोग कर उसका फायदा ले सकते हैं। मासिक टिकट उन लोगों के लिए बेहद फायदेमंद होता है जो ऐसी जगहों में रोजाना आना-जाना करते हैं, इससे जहाँ उन्हें एक ओर पैसे की बचत होती है वहीं दूसरी ओर रोजाना टिकट के लिए लाइन में लगने वाले परेशानी से भी छुटकारा मिलता है, समय की भी बचत होती है। मासिक सीजन टिकट हमें रेलवे, बस सेवा, पार्किंग इत्यादि जगहों में ज्यादातर मिलती है, इसके अलावा सिनेमा घरों में भी हमें यह सुविधा मिलती है। 

विशेष रूप से बात करें तो रेलवे के द्वारा रोजाना आवागमन करने वाले लोगों के लिए MST की सर्विस दी जा रही है। इसके तहत रोजाना अपने काम से एक शहर से दूसरे शहर जाने वाले लोगों को टिकट के लिए लाइन में खड़ा नहीं होना पड़ेगा। हमें बस एक बार टिकट काउंटर पर जाकर एक फॉर्म भरकर देना होता है जिसमें हम MST के लिए आवेदन करते हैं और फिर एक ही बार हमें उसका भुगतान करना होता है।

 मासिक सीजन टिकट का एक फायदा यह भी है कि हमें इससे किराये में काफी राहत मिलती है। उदाहरण के तौर पर यदि हमारे एक दिन का किराया 50 rs. है और महीने भर का किराया 1500 rs. होता है तो हमारा मासिक किराया 1000 के लगभग होता है, इससे हमें काफी फायदा होता है। ट्रेनों में ज्यादातर रोजाना आवागमन करने वाले छात्रों, व्यापारियों, नौकरी कर रहे लोगों के लिए रेलवे MST जारी करता है जिससे उन्हें पैसे और समय दोनों की बचत होती है। यह MST एक महीनों के अलावा तीन महीनों के लिए भी निर्गत किया जाता है जिसमें सुपर फास्ट ट्रेनों के बजाय यात्री मेल एक्सप्रेस का टिकट बनवाते हैं। इसके तहत जिस स्टेशन से MST ली जाती है उस स्टेशन से अधिकतम 150 km. तक ही यह MST मान्य होती है, इसमें यात्री सुपरफास्ट या मेल एक्सप्रेस के केवल जनरल कोच में ही यात्रा कर सकते हैं।

VIP FULL FORM IN HINDI ? VIP KA PURA NAAM

 रेलवे में यात्रियों के लिए बनने वाला मासिक टिकट सीजन, 1 महीने, 3 महीने, 6 महीने या पूरे 1 साल का होता है। MST के कारण यात्रियों को किराये में 20-25 प्रतिशत तक की छूट मिल जाती है। इसके अलावा रेल यात्री UTS मोबाईल ऐप और टिकट वेंडिग मशीन के द्वारा अपने MST को रिन्यूवल भी करवा सकते हैं। रेलवे की वेबसाइट के अनुसार रेलवे हर यात्री को केवल एक ही मासिक सीजन टिकट का approval देता है, इसके अतिरिक्त किसी भी इस तरह के टिकट को अमान्य माना जाता है।

RIP FULL FORM IN HINDI ? RIP KA PURA NAAM

 रेलवे के नियमों के अनुसार रेलवे First Class के MST यात्रियों को AC कोच में यात्रा करने की अनुमति प्रदान नहीं करता। रेलवे MST बनाने वाले अपने प्रत्येक यात्रियों को एक रुपये के शुल्क पर एक फोटो पहचान पत्र जारी करता है , इस फोटो पहचान पत्र की वैद्यता पाँच साल की होती है। इस पहचान पत्र में यात्रा करने वाले व्यक्ति का नाम, पता और उम्र जैसी जानकारियाँ होती है। यह पहचान पत्र रेलवे के अनुसार, MST पर यात्रा करते समय यात्री द्वारा निर्मित किया जाना होता है। मासिक सीजन टिकटों को जारी करने और उसके रिन्यूवल के लिए रेलवे हमारे पहचान के रूप में एक सरकारी एजेंसी द्वारा हमारा पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र, पैन कार्ड, क्रेडिट कार्ड और फ़ोटो जैसे दस्तावेजों की एक छाया प्रति स्वीकार करता है। ऐसी स्थिति में यात्रियों द्वारा जमा किये गए दस्तावेजों की छाया प्रति का एक मूल प्रति भी साथ ले जाना आवश्यक होता है। MST यात्रियों के लिए केवल यात्री ट्रेनों के यात्रा के लिए मान्य होते हैं, इसमें वाहक के अनुसार किसी भी आरक्षित कोच या ट्रेनों में यह सुविधा नहीं है।

3. MST का प्रयोग (Uses of MST in Hindi) 

 मेल, एक्सप्रेस या सुपरफास्ट ट्रेनों के मामले में MST सिर्फ उन्हीं जगहों के लिए मान्य है जहाँ रेलवे प्रशासन द्वारा इसके लिए विशेष अनुमति प्रदान की जाती है। Indian Railway के नियमों के अनुसार किसी व्यापारी या नौकरी में कार्यरत यात्रियों की तुलना में छात्रों का MST किराया व्यापारी या नौकरीपेशा यात्रियों के किराये की तुलना में बहुत कम होता है।

 रेलवे की तरह कुछ बसों में भी MST की सुविधा उपलब्ध है, रोडवेज बसों में ज्यादा आवागमन करने वाले यात्रियों के लिए परिवहन निगम की ओर से मासिक सीजन टिकट और स्मार्ट कार्ड दोनों का ऑप्शन दिया गया है। MST बनवाने वाले यात्रियों को MST की समय अवधि के दौरान बार-बार पैसे देकर टिकट खरीदने की आवश्यकता नहीं होती है और MST में टिकट के लिए खर्च किये जाने वाले पैसे में भी काफी बचत होती है। इस MST योजना का फायदा विशेष रूप से ऐसे यात्रियों को ज्यादा मिलता है जो एक ही रूट में रेगुलर यात्रा करते हैं, इसके साथ ही स्मार्ट कार्ड का विकल्प वैसे यात्रियों के लिए अधिक फायदेमंद है जो रोडवेज बसों में यात्रा तो अधिक करते हैं परंतु यात्रा करने का कोई निश्चित रूट नहीं होता है। वैसे यात्री जिनका स्मार्ट कार्ड बना होता है उन यात्रियों को भुगतान किये गए शुल्क राशि से 20 प्रतिशत अधिक धनराशि की यात्रा करने की छूट मिलती है।

Conclusion

तो दोस्तों, आपको  के बारे में जानकारी हिंदी में। अच्छी लगी होगी हमे उम्मीद है इस पोस्ट को पढ़ कर आप mst full form In Hindi (mst मीनिंग इन हिंदी) समझ गए होंगें और अब अगर आपसे कोई पूछेगा कि mst का मतलब क्या होता है? तो अब आप उसे mst मीनिंग इन हिंदी बता सकेंगे।

अगर आपको हमारा ये mst Information In Hindi पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share कीजिए और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल हो, तो उसे Comment में लिख कर हमें बताए।


Spread the love
  • 1
    Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *