LLM FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है LLM, पूरी जानकारी

Spread the love

LLM Full Form in Hindi, LLM Ka Pura Naam Kya Hai, LLM क्या है, LLM Ka Full Form Kya Hai, LLM का Full Form क्या है, LLM meaning, LLM क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा।

दोस्तों! LLM शब्द के बारे में तो आपने पहले भी सुना ही होगा लेकिन क्या आप जानते हैं कि LLM full form in Hindi क्या है? यदि नहीं तो LLM के बारे में जानना आपके लिए बेहद फायदेमंद हो सकता है क्योंकि यह आमतौर पर लोगों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले शब्द हैं जो आपकी जीवनशैली में कानूनी तौर पर काफी मदद कर सकते हैं। यदि आप अब तक नहीं जानते कि LLM full form in Hindi क्या है तो हम आपके लिए इस आर्टिकल में LLM full form in Hindi के साथ-साथ इससे जुड़ी जानकारी लेकर आए हैं, जिसकी मदद से आप इसके बारे में सभी जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको LLM full form क्या होता है?, LLM का क्या मतलब है?, LLM से जुड़े काम क्या हैं? जैसी सभी जानकारियां बताने वाले हैं। इसे जानने के लिए आप इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें क्योंकि यहां हमने LLM full information in Hindi के बारे में संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई है। LLM के अंतर्गत आने वाली हर बात और कार्य यहां निम्नलिखित हैं –

1. LLM का फुल फॉर्म क्या है?( LLM Full Form in Hindi) 

LLM का फुल फॉर्म Master of Laws (मास्टर ऑफ लॉ) होता है। LLM या Master of Law को हिन्दी में कानून कि पढ़ाई में मास्टर डिग्री प्राप्त करने को कहते हैं।

2. LLM क्या है? (What is LLM in Hindi?)

किसी भी देश में आज के समय में कानून की जरूरत होती ही है क्योंकि बिना किसी कानून नियम के किसी देश का चलना मुमकिन नहीं है क्योंकि कई लोग बहुत से कानून के खिलाफ हो कर ग़लत काम करते हैं तब ऐसे लोगों को सजा दिलवाने के लिए और कानून की मदद करने के लिए वकीलों की मदद पड़ती है जो सही और ग़लत की पहचान करवा कर गुनहगार को सजा दिलवा सकता है।

इसीलिए वैसे सही और ग़लत को कानूनी रूप में पेश करने के लिए LLM की पढ़ाई करने की जरूरत होती है। सीधे और सरल भाषा में कहा जाए तो वकील की पढ़ाई को ही LLM कहते हैं। आज के समय में गुनाह और कानून के खिलाफ काम करने वाले लोग बढ़ते ही जा रहे है इसीलिए वकीलों की भी जरूरत ज्यादा पड़ती है। इसीलिए वकील बनने के लिए LLM की कोर्स या पढ़ाई करनी होती है।

3. LLM किसे कहते हैं? (Who is called LLM in Hindi?)

बढ़ते क्राइम के कारण वकीलों की भी जरूरत बढ़ है है जो कानून के साथ सही और ग़लत की पहचान कर लोगों के सामने ला सके। वकील बनने की या लॉ यानि कानून की सर्वश्रेष्ठ पढ़ाई को LLM यानि मास्टर ऑफ लॉ कहते हैं। बाकी सभी स्नातक जैसी पढ़ाई की तरह ही लॉ की भी पढ़ाई होती है। इसकी भी अपनी सिलेबस, कोर्स और परीक्षाएं होती हैं जिसकी मदद से कोई व्यक्ति LLM की पढ़ाई कर वकील बन सकता है। LLM आज के समय के पॉपुलर करियर में से एक है।

CBI FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है CBI, पूरी जानकारी

4. LLM की पढ़ाई कैसे होती है? (How to study LLM in Hindi?)

LLM बाकी कोर्स और पढ़ाई की तरह ही है जिसकी अपनी सिलेबस और विषय निर्धारित होते हैं। LLM की पढ़ाई के लिए स्टूडेंट्स को सबसे पहले स्नातक की पढ़ाई ख़तम करनी पड़ती है। LLM पोस्ट ग्रेजुएट का ही एक विषय है या इसे पोस्ट ग्रेजुएट की पढ़ाई भी कह सकते हैं। इस LLM की पोस्ट ग्रेजुएट में कानून की पढ़ाई होती है। इस कोर्स के तहत स्टूडेंट्स को कानून के कायदे और नियम के बारे में पढ़ाया जाता है।

इसका मतलब है कि स्टूडेंट्स को कानून से जुड़े सभी Rules and Regulations के बारे में बताया जाता है। पोस्ट ग्रेजुएट में LLM के कोर्स की पढ़ाई करने के लिए आपको स्नातक में LLB यानि Bachelor Of Law की पढ़ाई करनी पड़ती है। LLM की पढ़ाई करने के बाद छोटे से बड़े कोर्ट तक वकील का काम कर सकते है। आप हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट या तहसील और डिस्ट्रिक्ट लेवल पर वकील के रूप में कानून का साथ दे कर सही और ग़लत को बता सकते हैं। 

5. LLM का कोर्स कितने समय का होता है? (How long is the LLM course in Hindi?)

पोस्ट ग्रेजुएट के बाकी विषयों की तरह ही LLM में भी दो वर्ष का कोर्स होता है जिसमें कानून विभाग और उसके नियमों से जुड़ी जानकारियां दे कर स्टूडेंट्स को शिक्षित किया जाता है। इस दो साल के कोर्स के बाद आपको एक मास्टर्स की डिग्री मिलती है जिसकी मदद से आप कानून क्षेत्र में अपना काम के सकते हैं।

6. LLM कोर्स करने के लिए किन योग्यताओं को जरूरत होती है? (What are the qualifications required for doing LLM course in Hindi?)

LLM की पढ़ाई करने के लिए आपको कुछ योग्यताओं की जरूरत होती है जिसकी मदद से आप LLM कोर्स की पढ़ाई कर वकील के रूप अपना करियर बना सकते हैं। LLM की कोर्स की पढ़ाई के लिए सबसे जरूरी है कि स्टूडेंट्स 12वीं की कक्षा में उत्तीर्ण हो चुका है। 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद स्टूडेंट्स को ग्रेजुएशन यानि स्नातक की 3 वर्ष की पढ़ाई करने के बाद कानून विषय यानि लॉ सब्जेक्ट्स की LLB शिक्षा ग्रहण करनी पड़ती है। यह लॉ की LLB की पढ़ाई 2 वर्ष की होती है।

यदि कोई व्यक्ति स्नातक या ग्रेजुएशन नहीं करना चाहते हैं तो वह 12वीं की पढ़ाई में उत्तीर्ण होने के तुरंत बाद ही सीधे LLB के पांच वर्ष का कोर्स कर सकते हैं। LLM की पढ़ाई करने के लिए स्टूडेंट्स को स्नातक के बाद 2 वर्ष की LLB या 12वीं के बाद पांच वर्ष की LLB के कोर्स की परीक्षा में 50 प्रतिशत अंकों से पास करना अनिवार्य होता है। 50 प्रतिशत अंक आने के बाद आपको LLM के प्रवेश परीक्षा यानि Entrance Exam की तैयारी करनी पड़ती है। हालांकि LLM की ऐसी प्रवेश परीक्षाएं केवल सरकारी कॉलेजों में ही होती है।

यदि आप किसी निजी या प्राइवेट कॉलेज में अपना दाखिला करवाना चाहते हैं तो आपको LLB में अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होना पड़ेगा क्योंकि निजी कॉलेजों में अंक के आधार पर LLM का दाखिला किया जाता है।

7. LLM कोर्स करने में कितना खर्च होता है? (How much does LLM course cost in Hindi?)

किसी भी स्टूडेंट्स के मन में किसी कोर्स को ले कर सबसे ज्यादा सवाल उसकी फीस या खर्च को ले कर है होता है। हालांकि ऐसी कोर्सेज में थोड़े खर्च होते हैं लेकिन यह काफी अच्छा करियर साबित हो सकता है। यूं तो सभी कॉलेजों में पढ़ाई के लिए अलग अलग मात्रा में खर्च होते हैं लेकिन सरकारी कॉलेजों में LLM के कोर्स के लिए कम खर्च होता है जब की प्री आते कॉलेज में LLM के कोर्स ज्यादा फीस पर होती है। लेकिन एक अनुमान के मुताबिक LLM के एक वर्ष के कोर्स की पढ़ाई में करीब 2 लाख रुपए खर्च हो सकते हैं।


Spread the love

Leave a Comment