May 18, 2021
icu full form

ICU FULL FORM IN HINDI ? ICU KA PURA NAAM

Spread the love
  • 1
    Share

ICU Full Form in Hindi, ICU Ka Pura Naam Kya Hai, ICU क्या है, ICU Ka Full Form Kya Hai, ICU का Full Form क्या है,  ICU कैसे होता है, ICU क्या क्या कार्य होता है।आज इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

ICU शब्द चिकित्सा से सम्बंधित है जब कोई रोगी गंभीर स्थिति में होता है तब उसे ICU में लाया जाता हैं। जँहा उस रोगी का विशेष उपकरणों के माध्यम से विशेष इलाज किया जाता है। जँहा पर विशेषज्ञ और चिकित्सकों की एक टीम पहले से ही तैयार रहती हैं। ICU के बारें में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को पूरा पढ़े।

इस लेख में आपको हम बताएंगे की ICU full form क्या हैं। ICU क्या हैं और कैसे काम करता हैं। तो आइए सबसे पहले जानते हैं कि ICU की फुल फॉर्म क्या है और ICU क्या होता है।

ICU FULL FORM IN HINDI

ICU ( Intensive Care Unit) हिंदी भाषा में कहा जाए तो इसे गहन चिकित्सा विभाग कहा जाता है। ICU की सुविधा स्पेशल ट्रीटमेंट के लिए दी जाती है ताकि रोगियों को या फिर ऐसे व्यक्तियों को जिन्हें तुरंत ही स्पेशल ट्रीटमेंट की आवश्यकता हैं ऐसे लोगों को सही समय पर सही ट्रीटमेंट दिया जा सके। आगे हम जानेंगे कि ICU में कितने विभाग है और उन्हें कब और कैसे उपयोग में लाया जाता है। साथ ही साथ हम यह भी जानेंगे कि ICU मैं इस्तेमाल किए जाने वाले विशेष उपकरणों के नाम क्या है और वह किस काम में इस्तेमाल में लाए जाते हैं।

AIDS FULL FORM IN HINDI ? AIDS KA PURA NAAM

क्या हैं ICU?

ICU एक वार्ड का नाम है जो कि हर हॉस्पिटल में होता है। यहाँ पर किसी व्यक्ति या रोगी को उस वक्त लाया जाता है जब वह गंभीर स्थिति में होता है। तब उस व्यक्ति को स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जाता है। ताकि उसकी जान बचाई जा सके। ICU वार्ड लगभग सभी अस्पतालों में होता है। ICU मैं भी अलग अलग विभाग होते हैं जैसे :- NICU, PICU, PICU, CCU, MICU, आदि। ICU FULL FORM IN HINDI

NICU:-

NICU ( Neonatal Intensive Care Unit) इस वार्ड में नवजात शिशु से संबंधित बीमारियों का इलाज किया जाता है। यानि जन्म लेने के बाद जिन बच्चों में कोई कमी या बीमारी होती है तो उन्हें इस वार्ड में रखकर ही इलाज किया जाता है।

PICU :-

PICU (Pediatric Intensive Care Unit) ICU के इस विभाग में ऐसे रोगी जिन्हें अस्थमा, डायबिटिक, ट्रॉमेटिक ब्रेन, से संबंधित सभी गंभीर बीमारियों का इलाज किया जाता है।

PICU:-

PICU (Psychiatric Intensive Care Unit) ICU के इस विभाग में उन रोगियों का इलाज किया जाता है जो मानसिक रूप से बीमार होते हैं। जिसके लिए ऐसे रोगियों की निगरानी भी की जाती है। ताकि वह किसी भी अन्य व्यक्ति या रोगी को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान ना पहुंचा सके।

CCU:-

CCU ( Coronary Care Unit) ICU के इस विभाग में ऐसे रोगियों का इलाज किया जाता है। जिन्हें जन्म से ही हृदय रोग से संबंधित कोई बीमारी होती है। इसे Cardiovascular Intensive Care Unit भी कहा जाता है।

MICU :-

MICU ( Mobile Intensive Care Unit) ICU किस विभाग में ऐसे रोगियों का इलाज किया जाता है जिन्हें तुरंत हे उपचार की आवश्यकता होती है। इस विभाग में एक एंबुलेंस होती है जिसमें सभी विशेष उपकरण उपलब्ध होते हैं। था एक डॉक्टर्स की टीम हमेशा उपचार के लिए उपलब्ध होती है ताकि रोगी को सही समय पर बिना देर किए सही ट्रीटमेंट दिया जा सके।

ICU में इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण

दोस्तों, जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आवश्यकता पड़ने पर किसी रोगी को इमरजेंसी वार्ड से ICU मैं ट्रांसफर कर दिया जाता है। जो कि उसी हॉस्पिटल का एक विभाग होता है। परन्तु सवाल यह है कि ऐसा क्यों किया जाता है। किसी भी रोगी को ICU में ट्रांसफर करने का मतलब यह होता है कि उसे विशेष उपचार दीया जा सके जिसके लिए उन्हें विशेष उपकरणों की आवश्यकता पड़ती है। यह सभी विशेष उपकरण ICU में उपलब्ध होते हैं। ICU मैं इस्तेमाल किए जाने वाले विशेष उपकरण जैसे:

HIV FULL FORM IN HINDI ? HIV KA PURA NAAM

वेंटीलेटर:- 

इसका इस्तेमाल तब किया जाता है जब रोगी को सांस लेने में अधिक समस्या होती है।

फीडिंग ट्यूब:-

इस मशीन का इस्तेमाल तक किया जाता है जब रोगी भोजन लेने में असमर्थ होता है तो उसे इस ट्यूब के माध्यम से उसके शरीर में फूड डिलीवर किया जाता है।

ईईजी बॉक्स:-

ईईजी बॉक्स का इस्तेमाल रोगी की बीमारी के बारे में और अधिक जानकारी लेने के लिए किया जाता है। ताकि रॉकी का सही तरीके से उपचार किया जा सके।

पल्स ऑक्सीमीटर:-

पल्स ऑक्सीमीटर का इस्तेमाल रोगी के शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को नापने के लिए किया जाता है। इसे रोगी की उंगलियों मैं लगाया जाता है।

डायलिसिस:-

डायलिसिस एक प्रक्रिया होती है। जिसे रोगी के शरीर के फोन को निकाल कर से साफ करके फिर से उसकी बॉडी में डाल दिया जाता है इस प्रक्रिया को ही डायलिसिस कहा जाता है। और इसमें इस्तेमाल होने वाले उपकरण को डायलिसिस मशीन कहा जाता है।

DNA FULL FORM IN HINDI ? DNA KA PURA NAAM

ICU मैं इस्तेमाल किए जाने वाले अन्य उपकरण

Syringe Pump

Infusion Pump

Blood Warmer

Anesthesia Machine

ECG (Electrocardiogram)

Multiparameter Moniter

Opthalmoscope

Stethoscope

Pacemaker

Transport Moniter

Mini Doppler

Air bed

Oxygen flow meter

Suction Unit

Medical Furniture

ICU Pendants

Intra Aortic Ballon Pump

Non Invasive Cardiac Moniter

Portable X Ray Machine

ICU में रोगी को भर्ती करने के कारण

दोस्तों, यह तो आप जानते ही होंगे कि किसी भी व्यक्ति को ICU में भर्ती करने के कई कारण होते हैं। जैसे :-

1. यदि किसी व्यक्ति को हर्ट अटैक आया हों तो उस समय व्यक्ति को ICU में भर्ती कराया जाता हैं।

2. यदि किसी व्यक्ति का लीवर काम नहीं करता तो उस स्थिति में भी उस व्यक्ति या रोगी को ICU में भर्ती कराया जाता है।

3. यदि किसी व्यक्ति का कोई गंभीर एक्सीडेंट हो जाता है तो उसे तुरंत उपचार की आवश्यकता होती है ऐसी स्थिति में भी उस व्यक्ति को ICU में भर्ती करवाया जाता हैं।

आईसीयू में हमें अपना व्यवहार कैसा रखना चाहिए

Mobile Phone:-

सबसे पहले हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि जब हम ICU वार्ड में दाखिल होते हैं तो उस समय हमें अपने मोबाइल फोन को बंद कर देना चाहिए क्योंकि इससे किसी भी प्रकार के बिजली के उपकरणों को नुकसान पहुंच सकता है और साथ ही साथ हमें भी। इसलिए अपनी सुरक्षा को बनाए रखने के लिए हमें अपना मोबाइल फोन बंद कर देना चाहिए। ICU FULL FORM IN HINDI

स्वच्छता का ध्यान रखें:-

जब हम ICU वार्ड में जाते हैं तो हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि हमें वहां पर किसी भी प्रकार की कोई गंदगी या खाने पीने की चीज़ो को नहीं फेंकना हैं। क्योंकि आईसीयू में जो रोगी होते हैं उन्हें संक्रमण का खतरा रहता है। तथा ऐसे रोगियों को अधिक देखभाल की भी जरूरत होती है।

अनावश्यक भोजन:-

अक्सर ऐसा होता है कि जब हमारा कोई रिश्तेदार या परिवार का कोई व्यक्ति ICU में भर्ती होता है तो उस समय हम उसे अपनी मर्जी के मुताबिक कोई भी अनावश्यक भोजन दे देते हैं जिसे उस व्यक्ति के शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए रोगी को किसी भी प्रकार के खाने पीने की कोई चीज देने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

समय:- 

 किसी भी रोगी से मिलने के लिए आपको समय का ध्यान रखना आवश्यक है। यानि की ICU में रोगी से मिलने के लिए एक Visitor Policy होती है जिसमें हमें इस बात का ध्यान रखना होता है कि हम किस समय रोगी से मिल सकते हैं। कम से कम कितने व्यक्ति रोगी से मिल सकते हैं।

निष्कर्ष:- 

दोस्तों आज के इस लेख ICU full form in Hindi में हमने बताया कि ICU का इस्तेमाल कब किया जाता है और यह क्या होता है। तथा ICU इस्तेमाल होने वाले उपकरण कौन-कौन से होते हैं। उम्मीद है आपको हमारी यह जानकारी जरूर अच्छी लगेगी। यदि आपका हमारा यह लेख पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। और अगर आप इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। ICU FULL FORM IN HINDI


Spread the love
  • 1
    Share
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *