HR FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है HR, पूरी जानकारी

Spread the love
  • 2
    Shares

HR Full Form in Hindi, HR Ka Pura Naam Kya Hai, HR क्या है, HR Ka Full Form Kya Hai, HR का Full Form क्या है,  HR meaning, . In क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

दोस्तों ! आप सबको पता ही होगा कि भारत एक घनी आबादी वाला देश है और यहाँ कि एक बड़ी आबादी प्राइवेट सेक्टर में ही जॉब करती है। दोस्तों ! जो लोग प्राइवेट सेक्टर में काम कर रहे हैं या करते हैं, वे HR शब्द से भली भांति परिचित होंगे। HR एक कम्पनी की जान होता है, जो उस कम्पनी के कर्मचारियो को हैंडल करता है। तो आइये आज जानते हैं HR के बारे में कि HR का फुल फॉर्म क्या होता है, HR का मतलब क्या होता है और HR का काम क्या होता है, इत्यादि।

HR का फुल फॉर्म क्या है? (What is the full form of HR in Hindi?)

HR का फुल फॉर्म HUMAN RESOURCES होता है। हिंदी में इसे मानव संसाधन के रूप में जाना जाता है।अधिकांश कम्पनीयों में HR का एक समूह होता है और यह समूह ह्यूमन सोर्स के रूप में कार्य करते हैं। प्रत्येक कम्पनीयों में HR में 4 से 5 लोगों का एक समूह होता है, जिन्हें HR मेनेजर कहा जाता है। इस समूह के द्वारा उस कम्पनी में कार्य बल का निर्माण किया जाता है। HR समूह के द्वारा नये लोगो की भर्ती, कम्पनी में रहने के तरीकों और कम्पनी के प्रबन्धन को सम्भालने का काम होता है। HR Full Form in Hindi

HR का मतलब क्या है? (What is the meaning of HR in Hindi?)

HR के द्वारा किसी संस्था या सन्गठन में कर्मचारियो का रिक्रूटमेंट, उनका मैनेजमेंट, कर्मचारियों के सैलरी और उनके समस्याओं का समाधान करना होता है। किसी भी कम्पनी या सन्गठन में HR समूह उस कम्पनी की जान होते हैं। 

HR का मुख्य काम ह्यूमन रिसोर्सेज को मैनेज करना होता है। HR शब्द का प्रयोग 1960 के दशक में हुआ था। HR किसी कम्पनी या आर्गेनाईजेशन में मानव संसाधन से सम्बन्धित सभी कार्यो को करता है। 

HR का सीधा मतलब लोगो को रोजगार दिलाना, उनके संसाधनों का विकास करना, उनका संस्था के कार्यो में योगदान दिलाना और काम के बदले में उस कार्य के अनुरूप उसे वेतन देना होता है। एक HR के रूप में वह ऑर्गेनाइजेशन में काम करने वालो के हित और उनके हक का पूरा ख्याल रखता है।  HR Full Form in Hindi

HR विभाग को किसी कम्पनी का प्राथमिक और सबसे महत्वपूर्ण विभाग माना जाता है। HR विभाग द्वारा कम्पनी में काम कर रहे सभी कर्मचारियो का ध्यान रखा जाता है।कोई भी कम्पनी पूर्ण रूप से कर्मचारियो के लिए HR डिपार्टमेंट पर निर्भर करती है। HR विभाग कम्पनी में खाली पड़े पदों को भी भरने का प्रयास करता है, जिससे की कम्पनी में मैनपावर की कोई कमी ना हो जाय और कम्पनी अपना काम सुचारू रूप से जारी रख सके क्योकि कोई भी कम्पनी बिना कर्मचारियो के नही चल सकती है।  HR Full Form in Hindi

HR के द्वारा कम्पनीयों में आये नये 2 कर्मचारियो को उस कम्पनी के रूल्स और तौर तरीको को भी समझाया जाता है, ताकि कर्मचारियों को वहां काम करने में कोई परेशानी ना आये।

इसके अलावे भी HR के और भी बहुत सारे काम होते हैं, किसी नये Employee का इंटरव्यू लेना, उसका selection करना और साथ ही साथ अगर वह उस पद के योग्य हो तो उसका वेतनमान सेट करना। उसके Experience के अनुरूप उसे वेतन देना ताकि एम्प्लोयी को कोई दिक्कत ना आये। एक सफल HR मैनेजर उस कम्पनी के एम्लोईयो को कम्पनी की सम्पति समझता है। अगर कोई कर्मचारी उस कम्पनी में उस कम्पनी के रूल्स के अनुसार नही चलता है या फिर किसी अन्य कर्मचारी के साथ गलत व्यवहार करता है तो HR उस कर्मचारी को तत्काल प्रभाव से हटा सकता है। उसके उपर कार्रवाही कर सकता है। HR Full Form in Hindi

LOL FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है LOL, पूरी जानकारी

HR के कार्य क्या है? (what are the functions of HR in Hindi?)

HR ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट के तहत काम करता है, जिसे हम HRM के नाम से जानते हैं। HRM में मानव संसाधनों के कार्यो को कई ग्रुप में बांटा गया है, जिसके द्वारा कम्पनी के लक्ष्यों को पूरा करने में मदद मिलती है, जिससे कम्पनी अपने लाभांश को प्राप्त कर सके। HR डिपार्टमेंट इन सभी कार्य प्रणाली में ध्यान देता है। HR Full Form in Hindi

इसके कार्य प्रणाली इस प्रकार हैं –

1. कार्यबल की परिकल्पना करना – जब कोई कम्पनी स्टार्ट होती हैं तो सबसे पहले HR विभाग का गठन होता है। इस HR वोभाग में 4 से 5 लोगो का समूह होता है जो उस कम्पनी में काम करने ववाले कार्मिको की संख्या और उनके पदों का निर्धारण करते हैं।

2. कार्यबलो की भर्ती करना – कार्यबलो के भर्ती का जिम्मा भी इन्ही के हाथो होता है। कर्मिक कितने Qualified होंगे या Experienced होगा इत्यादि।

3. कार्यबलो की ट्रेनिंग और उनका डेवलपमेंट – कार्यबलो की भर्ती के बाद उसे कम्पनी में कौन से काम करने है या कार्यो को समझाने का जिम्मा HR के हाथ में होता है।

4. मजदूरी और उनका वेतन – कार्यबलो को उनके योग्यता और उनके एक्सपीरियंस के आधार पर उनका वेतनमान निर्धारित होता है। अगर कोई एम्प्लोयी की वार्षिक प्रोग्रेस अच्छा होता है तो उनके सैलरी में 10 से 20 प्रतिशत की हाईक भी करता है।

5. कार्मिको का समय प्रबन्धन – कार्मिको को कितने घंटे काम करने हैं, किस कर्मचारी को किस शिफ्ट में काम करना है। सभी समय प्रबन्धन का काम HR को करना होता है।

6. कार्मिको का यात्रा प्रबन्धन – अगर किसी कर्मचारी को कम्पनी के काम से किसी दुसरे स्थान पे जाना हो तो उसके यात्रा का सारा प्रबंध HR को करना होता है, जिसे हम TA कहते हैं।

7. कार्मिको का लाभ प्रबन्धन – अगर कोई कर्मचारी किसी काम को बेहतर और जल्दी करता है, जिससे कम्पनी को लाभ हो तो HR उस कर्मचारी के भी लाभ का प्रबंध करता है ताकि कर्मचारियो को और भी काम करने में प्रोत्साहन मिले।

8. कार्मिक लागत की योजना और इसका मुल्यांकन – कार्मिको के सैलरी इन्क्रीमेंट और उनके कार्य प्रणाली या तौर तरीको को समय समय पर हाईटेक करने की जिम्मेदारी भी इन्ही की होती हैं।

HR के उत्तरदायित्व क्या है? (What are the responsibilities of HR in Hindi?)

कोई कम्पनी या आर्गेनाईजेशन तभी सफल होती है जब वह अपने कर्मचारियो का सही तरीके से मैनेजमेंट करती है। इस काम के लिए HR का होना बहुत ही अनिवार्य होता है। इसलिए यह काम ऐसे व्यक्ति को दिया जाता है जो इस दायित्व को अच्छे तरीके से निभा सके।

HR की स्टडी क्या है? (What is HR study in Hindi?)

ह्यूमन रिसोर्स के बारे में जानने के लिए इसकी पढ़ाई भी की जाती है जिसे हम प्रोफेशनल कहते हैं। HR मैनेजमेंट की स्टडी के लिए हम HRM में MBA भी कराया जाता है।

Conclusion

तो दोस्तों, आपको HR के बारे में जानकारी हिंदी में। अच्छी लगी होगी हमे उम्मीद है इस पोस्ट को पढ़ कर आप HR full form In Hindi (HR मीनिंग इन हिंदी) समझ गए होंगें और अब अगर आपसे कोई पूछेगा कि HR का मतलब क्या होता है? तो अब आप उसे HR मीनिंग इन हिंदी बता सकेंगे।

अगर आपको हमारा ये HR Information In Hindi पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share कीजिए और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल हो, तो उसे Comment में लिख कर हमें बताए।


Spread the love
  • 2
    Shares
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 2
  •  
  •  

Leave a Comment