COMPUTER FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है COMPUTER, पूरी जानकारी

Spread the love
  • 1
    Share

Computer Full Form in Hindi, Computer Ka Pura Naam Kya Hai, Computer क्या है, Computer Ka Full Form Kya Hai, Computer का Full Form क्या है,  Computer meaning, Computer क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

हेलो दोस्तों ! आज हम कंप्यूटर के फुल फॉर्म के बारे में जानेंगे और कंप्यूटर की विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे। कंप्यूटर के बारे में तो दुनिया के अधिकांश लोगो को पता होगा जो इसे चलाते हैं वे भी और नही चलाते वह भी। आज के समय में बिना कंप्यूटर के इस युग की परिकल्पना भी नही की जा सकती।

सरकारी कार्यालयों से लेकर प्राइवेट कार्यालयों तक हर जगह आपको कंप्यूटर ही कम्पुटर दिखाई देंगे और इसकी सबसे बड़ी वजह है कि आज के जमाने में सारे काम ही ऑनलाइन हो गये हैं।सॉफ्टवेयर कम्पनियों में तो इसकी उपयोगिता और भी बढ़ जाती है। वहां हर कर्मचारी के पास कंप्यूटर होना अनिवार्य है क्योंकि कोडिंग डिकोडिंग आप बिना कंप्यूटर के कर ही नही सकते। तो आइए जानते हैं कि कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या होता है, कंप्यूटर काम कैसे करता है, कंप्यूटर के प्रकार और कंप्यूटर का उपयोग क्या है आदि आदि।

कंप्यूटर का फुल फॉर्म (COMPUTER FULL FORM IN HINDI )

कंप्यूटर (COMPUTER) का फुल फॉर्म COMMONLY OPERATED MACHINE PARTICULARLY USED FOR TECHNICAL AND EDUCATIONAL RESEARCH होता है। कम्पुटर के इस फुल फॉर्म की बात करे तो officially ऐसा कुछ भी नही है पर इसके वृहत उपयोग को देखते हुए इसका फुल फॉर्म इसे सार्थक बनाता है। वैसे मजे की बात ये है की हिंदी में इसे संगणक कहते हैं। जो भारत के अधिकांश  लोगो को शायद पता भी ना हो। कंप्यूटर एक ऐसा इलोक्ट्रोनिक मशीन है जिसे हम तकनीक और शिक्षा के अनुसन्धान में उपयोग करते हैं।

कंप्यूटर क्या है? (What Is Computer?)

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन होती है जिसका उपयोग हम कैलकुलेशन करने में करते हैं। COMPUTER शब्द COMPUTE शब्द से बना है जिसका अर्थ गणना करना होता है इसलिए इसे हिंदी में हम संगणक कहते हैं। कंप्यूटर का उपयोग बहुत ही बड़े पैमाने में होता है। सर्वप्रथम कंप्यूटर को बनाने का श्रेय श्री चार्ल्स बेबेज को जाता है। जब कंप्यूटर का अविष्कार हुआ था तब इसे सिर्फ केल्कुलेटर के रूप में उपयोग होता था।

लेकिन समय के साथ इसमें काफी बदलाव आये ,इसके डिजाईन में काफी बदलाव आये और वर्तमान समय में कंप्यूटर बहुत ही तेज और एक्यूरेट हो गये हैं। एक कंप्यूटर बहुत सारे पार्ट्स से बना होता है जिसे हम इनपुट डिवाइस और आउटपुट डिवाइस कहते हैं जैसे कि मोनिटर, CPU, कीबोर्ड, माउस, स्पीकर्स, प्रिंटर, यूपीएस, RAM, ROM आदि।

KYC FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है KYC, पूरी जानकारी

कंप्यूटर के पार्ट्स क्या है? (What are the parts Of Computer in Hindi?) 

• मोनिटर – कंप्यूटर में मोनिटर का बहुत उपयोग होता है, जिसे हम डिस्प्ले भी कहते हैं। कम्पुटर में किया गया कोई भी काम हमे मोनिटर पे ही दिखाई देता है।

• CPU – CPU का मतलब कण्ट्रोल प्रोसेसिंग यूनिट होता है, इसे कंप्यूटर का ब्रेन भी कहा जाता है। कम्पुटर में इनपुट आउटपुट प्रोसेसिंग का काम CPU के द्वारा ही होता है, इसलिए इसे कंप्यूटर का मस्तिष्क कहा जाता है।

कीबोर्ड – कीबोर्ड का उपयोग हम कंप्यूटर में टाइपिंग के लिए करते हैं।

• यूपीएस – इसका मतलब UNINTERRUPTED POWER SUPPLY होता है, जिसका मतलब अगर पॉवर  कट हो जाय तब भी कंप्यूटर बंद नही होता। यूपीएस 10 से 15 मिनट तक पॉवर सप्लाई देता है।

• प्रिंटर – प्रिंटर का काम किसी भी चीज को प्रिंट करना होता है, अगर कंप्यूटर से कुछ भी चीज हमे निकलने की जरूरत पडती है तो हमे प्रिंटर का सहारा लेना पड़ता है।

• RAM – इसे RANDOM ACCESS MEMORY भी कहते हैं, इसे MEMORY को हम तुरंत डिलीट कर सकते हैं अर्थात यह कुछ ही समय के लिए कंप्यूटर में रहता है।

• ROM – इसे READ ONLY MEMORY कहा जाता है, यह तुरंत नही हटाया जा सकता है।

कंप्यूटर के प्रकार क्या है? (What are types Of Computer in Hindi?)

कंप्यूटर को मुख्यता चार भागो में बाँटा गया है जैसे की सुपर कंप्यूटर, मेनफ्रेम कंप्यूटर, मिनी कंप्यूटर और माइक्रो कंप्यूटर।

  1. सुपर कंप्यूटर – सुपर कंप्यूटर को विश्व का सबसे तेज कंप्यूटर कहा जाता है। इन कंप्यूटर का उपयोग स्पेस इंजीनियरिंग और हाई लेबल के कामो को करने के लिए किया जाता है। सुपर कंप्यूटर विश्व में गिने चुने देशो के पास ही है जिसमे हमारे देश भारत का नाम भी आता है। इसकी स्टोरेज क्षमता अन्य के मुकाबले कही अधिक होती है। यह बहुत सारे मेन कंप्यूटर को मिला के बनाया जाता है।
  1. मेनफ्रेम कंप्यूटर – मेनफ्रेम कंप्यूटर सुपर कंप्यूटर जैसे पावरफुल नही होते हैं। गवर्नमेंट आर्गेनाईजेशन के द्वारा इन तरह के कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है क्योकि सिक्यूरिटी के लिहाज से ये कंप्यूटर काफी सुरक्षित होते हैं जैसे की बैंक विभाग द्वारा, इन्स्युरेंस कम्पनियो द्वारा इत्यादि।
  1. मिनी कंप्यूटर – मिनी कंप्यूटर का उपयोग स्माल फर्मो के द्वारा किया जाता है जैसे की सॉफ्टवेर कम्पनीज आदि।
  1. माइक्रो कंप्यूटर – टेबलेट, डेस्कटॉप, लैपटॉप, SMARTPHONES माइक्रो कंप्यूटर की श्रेणी में आते हैं। ये काफी सस्ते होते हैं अन्य तीन प्रकार के कंप्यूटरों की अपेक्षा इनका उपयोग करना भी काफी आसान  होता है। ये कंप्यूटर पोर्टेबल होते हैं, इन्हें हम आसानी से कही भी ले जा सकते हैं।

कंप्यूटर के उपयोग क्या हैं? (What are the uses of computer in Hindi?)

कंप्यूटर को हम दैनिक जीवन में बहुत सारी चीजों में करते हैं जैसे की हम कंप्यूटर की सहायता से ईमेल सेंड कर सकते हैं। इन्टरनेट की सहायता से कंप्यूटर में हम दुनिया जहां के चीजो के बारे में जानकारियाँ इकट्ठी कर सकते हैं, अपने रिश्तेदारों से विडियो कॉल पे बाते कर सकते हैं, कंप्यूटर पे बहुत सारी गेम्स खेल सकते हैं, मैथ्स के प्रोब्लम्स हल कर सकते हैं, किसी भी चीज को हम प्रिंट आउट से बाहर निकाल सकते हैं, इन्टरनेट की सहायता से हम कंप्यूटर पे घर बैठे बैठे टिकट बना सकते हैं, देश विदेश के कई शहरों की जानकारी हम चुटकी में जान सकते हैं , अपने दोस्तों को हम मैसेज कर सकते हैं आदि आदि।

ये तो हुई दैनिक उपयोगिता अगर वृहत पैमाने की बात करें तो कंप्यूटर का उपयोग बड़े बड़े संस्थाओ में किया जाता है जैसे की नासा जो अन्तरिक्ष की कई सारी जानकारियां कंप्यूटर की सहायता से जुटाते हैं।

कंप्यूटर अपनी हाई स्टोरेज कैपेसिटी, अपनी गति, अपनी क्षमता और याद रखने की क्षमता के कारण यह हमारे जीवन में और भी महत्वपूर्ण होता जा रहा है। आने वाले समय में कंप्यूटर की उपयोगिता हमारे जीवन में और भी बढने वाली है।


Spread the love
  • 1
    Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  

Leave a Comment