CAD FULL FORM IN HINDI -जानिए क्या है CAD, पूरी जानकारी।

Spread the love

CAD Full Form in Hindi, CAD Ka Pura Naam Kya Hai, CAD क्या है, CAD Ka Full Form Kya Hai, CAD का Full Form क्या है,  CAD meaning, CAD क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है हमारे नए आर्टिकल cad फुल फॉर्म इन हिंदी में। CAD क्या होता है और CAD का use हम कब करते हैं। कैसे CAD का उपयोग किया जाता है। यदि आप अब तक नहीं जानते हैं कि CAD Full Form in Hindi क्या है और इसके बारे में जानने के लिए आप काफी उत्साहित हैं, तो हम इस आर्टिकल में आपके लिए cad full form in Hindi के साथ-साथ CAD की पूरी जानकारी लेकर आए हैं। इसके माध्यम से आप cad की पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

CAD full form क्या होता है? इसे जानने के लिए आप इस पोस्ट को अंत तक पढ़े क्योंकि यहां हमने CAD full information की संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई है। CAD के अंतर्गत हम निम्नलिखित बातें बताने वाले हैं: –

CAD FULL FORM IN HINDI

CAD का फुल फॉर्म Computer Aided Design होता है। हिंदी में CAD ka Full Form कंप्यूटर सहायता प्राप्त डिजाइन होता है। यह हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का एक संयोजन होता है जो सब कुछ डिजाइन करता है। कंप्यूटर Aided Design Output Print, Machining और अन्य निर्माण कार्यों के लिए इलेक्ट्रॉनिक फाइलों के रूप में होता है। 

CAD  सॉफ्टवेयर का उपयोग इंजीनियरों, वास्तु कारों, कलाकारों, ड्राफ्ट द्वारा 2D और 3D में चित्रण करने के लिए किया जाता है। यांत्रिक डिजाइन के लिए सीआईडी सॉफ्टवेयर या तो vector आधारित graphics का उपयोग करता है। पारंपारिक आलेखन की वस्तुओं को चित्रित करता है या तो डिजाइन किए गए ऑब्जेक्ट के स्वरूप को दिखाने वाले Underlined graphics का उत्पादन भी कर  सकता है। CAD एक महत्वपूर्ण औद्योगिक  कला है जिसका उपयोग कई अनुप्रयोगों में किया जाता है जिसमें मोटर वाहन, जहाज निर्माण, औद्योगिक और वास्तुशिल्प डिजाइन आदि शामिल होते हैं। 

CAD विशेषकर व्यापक रूप से फिल्मों ,विज्ञापन और तकनीकी मैनुअल में विशेष प्रभाव के लिए कंप्यूटर एनिमेशन का उत्पादन करने के लिए उपयोग किया जाता है ,जिसे DCC कहा जाता है।DCC अर्थात Digital content creation कहा जाता है। 1980 के दशक के मध्य तक सीआईडी एक सिस्टम एक अलग तरह से निर्मित कंप्यूटर हुआ करता था लेकिन अब आप CAD सॉफ्टवेयर खरीद सकते हैं जो आपके पर्सनल कंप्यूटर (PC)पर चल सकता है। 

Full Form Of CAD in Finance

वित्त के क्षेत्र में  CAD का full form current Account Deficit होता है। हिंदी में इसे चालू खाता घाटा कहा जाता है। देश के कुल निर्यात और आयात के बीच के अंतर को चालू खाता घाटा कहा जाता है। किसी देश में वस्तुओं और सेवाओं के आयात निर्यात के जरिए कितनी विदेशी मुद्रा आती है और कितनी बाहर जाती है उसके अंतर को चालू खाता घाटा कहा जाता है। लघु अवधि के लिए चालू खाता घाटा फायदेमंद साबित होती है। चालू खाता घाटा बढ़ने से देश की मुद्रा में कमजोरी आ सकती है

और देश में आने वाला निवेश घट सकता है। भारत में कच्चे तेल और सोने के बड़ी मात्रा मे आयात की वजह से चालू खाते का जवाब दिखता रहता है। CAD hardware का combination होता है। इसकी मदद से इंजीनियर कोई भी डिजाइन बना सकता है। यह किसी भी एंगल से एक डिजाइन को देखने और उसे ज़ूम तथा आउट करने की सुविधा प्रदान करता है। अब आप यह सॉफ्टवेयर खरीद कर डेक्सटॉप पर चला सकते हैं।

AI FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है AI, पूरी जानकारी

सीएडी क्या है? (what is CAD in Hindi)

CAD एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर में 2D और 3D डिजाइन क्रिएट करने के लिए किया जाता है। CAD का मतलब कंप्यूटर ऐडेड डिजाइन होता है।

2D CAD

2D CAD के बहुत सारे एप्लीकेशन सोते हैं लेकिन  सबसे ज्यादा इस्तेमाल vector based layout design करने के लिए किया जाता है। कुछ प्रकार के CAD के अंतर्गत

Two dimensional layout design और three dimensional modeling आती है। CAD software को बिल्डिंग फ्लोर प्लांस और आउटडोर लैंडस्केप के Overhead  Views को क्रिएट करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इनके layout जिसमें कि Vector Graphics होते है, उसे अलग-अलग साइज में scale किया जाता है जिसका इस्तेमाल proposals और bluprints में होता है। 2D CAD के अंतर्गत ड्राइविंग जैसे Sketches or mockups होते हैं जो कि बहुत कॉमन होते हैं।

3D CAD

3D CAD का सबसे ज्यादा इस्तेमाल video games और Animated Films को Devlop करने के लिए किया जाता है। इसके बहुत से रियल वर्ल्ड एप्लीकेशंस भी होते हैं जैसे कि Product Design, Civil Engineering or Simulation Modelling.3D CAD के अंतर्गत computer Aided Manufacturing जिसमें कि Three Dimensional Objects की असल मैन्युफैक्चरिंग होती है।

2D CAD drawings की तरह ही 3D models भी typically vector-based होता है। किंतु इसके अंतर्गत three dimensional होते हैं। यह डिजाइनर को क्रिएट करने के लिए कॉन्प्लेक्स 3D shapes जैसे कि move, rotate, enlarge और मॉडिफाई किया जाता है। जब एक 3D मॉडल क्रिएट किया जाता है, तब एक CAD डिजाइनर को सबसे पहले Construct करना पड़ता है। उस object की basics and wireframe जब एक से पूरा हो जाता है तब सरफेस को उस में ऐड किया जाता है जिसमें कलर ग्रेडियंट एवं डिजाइन अप्लाई किया जाता है। इसे एक Process के द्वारा अप्लाई किया जाता है। इस प्रोसेस को texture mapping कहा जाता है।

CAD की जानकारी क्या है? (What is the information about CAD in Hindi)

CAD-Computer Aided Design किसी उत्पाद की डिजाइन प्रोसेस को डिजाइन और दस्तावेज करने के लिए कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का उपयोग होता है और इसका उद्देश्य कंप्यूटर ऐडेड डिजाइन करना होता है। CAD का उपयोग Manufacturing Process के साथ साथ निर्माण क्षेत्र में आवश्यक तुलसा और उपकरणों के डिजाइन में किया जाता है। CAD की उत्पति तीन अलग-अलग स्रोतों में हुई थी। CAD का पहला स्रोत ड्राफ्टिंग प्रोसेस को संचालित करने के प्रयासों के परिणाम स्वरूप हुआ था। 

CAD का दूसरा स्रोत सिमुलेशन द्वारा डिजाइनओं के परीक्षण में किया गया था। उत्पादों का परीक्षण करने के लिए कंप्यूटर मॉडलिंग का उपयोग एयरोस्पेस और उच्च तकनीकी उद्योगों द्वारा किया गया था।

CAD विकास का तीसरा स्रोत न्यूमेरिकल कंट्रोल प्रौद्योगिकियों का उपयोग करके डिजाइन प्रोसेस से निर्माण प्रोसेस में प्रवाह को सुविधाजनक बनाने के प्रयासों के परिणाम स्वरूप हुआ था जो 1960 के दशक के मध्य तक कई एप्लीकेशन में व्यापक उपयोग का आनंद लिया करते थे। CAD का उपयोग इंजीनियरों आर्किटेक्ट्स और कंस्ट्रक्शन मैनेजर द्वारा उपयोग किए जाने वाले सीआईडी में मैनुअल ड्राफ्टिंग को बदल दिया है या यूजर्स को 2D या 3D में डिजाइन बनाने में मदद करता है। ताकि वे निर्माण की कल्पना कर सके और डिजाइन प्रोसेस के विकास को सक्षम बना सके। CAD सीखना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि इसके एप्लीकेशन में उच्च सीखने की अवस्था होती है।


Spread the love

Leave a Comment