BDO FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है BDO, पूरी जानकारी

Spread the love
  • 1
    Share

BDO Full Form in Hindi, BDO Ka Pura Naam Kya Hai, BDO क्या है, BDO Ka Full Form Kya Hai, BDO का Full Form क्या है,  BDO meaning, BDO क्या क्या कार्य होता है।आज इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

दोस्तों! यहां हम आपको BDO का Full Form क्या होता है? से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियों से अवगत कराने वाले हैं। यदि आप इस बारे में नहीं जानते हैं तो आपके लिए यह आर्टिकल काफी फायदेमंद होगा।

BDO का Full Form क्या होता है?

BDO का full form Block Development Officer (प्रखंड विकास पदाधिकारी) होता है। एक BDO का काम किसी राज्य के प्रखंड स्तर पर सरकारी कार्यों की देखभाल करना और अपने प्रखंड के अंदर आने वाले जनता के समस्याओं को सुनना और उनका निवारण करना होता है, एक BDO का दायित्व ये होता  है कि वह अपने प्रखंड स्तर पर सभी विकास कार्यों पर नजर रखे एवं अपने प्रखंड के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करे। हम यह कह सकते हैं कि एक प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने प्रखंड का मालिक एवं जनता का सेवक होता है।

हम सभी को यह पता है कि एक जिला नई तहसीलों में बँटा होता है और एक तहसील के अंदर कई सारे प्रखंड भी होते हैं, इस तरह से हर स्तर पर विकास के कार्यों की समीक्षा करने के लिए सरकार द्वारा एक अधिकारी नियुक्त किया जाता है जो अपने अंदर आने वाले क्षेत्रों का देखभाल एवं उसके विकास के कार्यों की समीक्षा कर सके। इसके अतिरिक्त हम यह कह सकते हैं कि एक प्रखंड के स्तर पर वहाँ की निगरानी एवं वहाँ के विकास कार्यों की समीक्षा के लिए जो अधिकारी नियुक्त किया जाता है उसे ही BDO अर्थात प्रखंड विकास पदाधिकारी कहा जाता है।

UPSC FULL FORM IN HINDI ? UPSC KA PURA NAAM

BDO पद के लिए योग्यता :-

BDO के पद का एग्जाम देने के लिए हमारा किसी भी विषय के कोर्स से ग्रेजुएट होना जरूरी है, इसलिए अगर हम BDO बनना चाहते हैं तो हमें सबसे पहले किसी अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करनी होगी जिसमें हम काफी अच्छे नंबरों से पास हों, इसके बाद ही हम BDO बन सकते हैं।

BDO कैसे बनें :-

BDO अर्थात प्रखंड विकास पदाधिकारी हमारे देश में राज्य सरकार के अधीन की नौकरी है इसलिए इसकी नियुक्ति भी राज्य सरकार द्वारा की जाती है। राज्य में जब भी किसी BDO की आवश्यकता होती है तो राज्य सरकार द्वारा इसका विज्ञापन दिया जाता है और इच्छुक लोगों से आवेदन की माँग की जाती है, इसके लिए हमारे पास माँग की गई शैक्षणिक योग्यता का होना आवश्यक है। BDO FULL FORM IN HINDI

यदि कोई भी इच्छुक व्यक्ति इस पद के लिए आवेदन करना चाहता है और इसके लिए उसके पास पर्याप्त शैक्षणिक योग्यता है तो वह इसके लिए आवेदन कर सकता है और इसकी परीक्षा में सम्मिलित हो सकता है।

BDO  पद के उम्मीदवारों  का चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर होता है जिसमें सबसे पहले लिखित परीक्षा आयोजित की जाती है और सफल होने वाले उम्मीदवारों को इंटरव्यू में बुलाया जाता है।

BDO पद के चयन  के लिए तीन अलग-अलग प्रक्रिया रखी गई है जो इस प्रकार हैं –

• प्रारंभिक परीक्षा : जो उम्मीदवार इस पद के लिए आवेदन करते हैं उनको लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में शामिल होना पड़ता है। प्रारंभिक परीक्षा में 2 पेपर होते हैं और इन दोनों पेपर के लिए उम्मीदवार को 2 घंटे का समय दिया जाता है। पहले पेपर में General Studies से 150 प्रश्न पूछे जाते हैं और यह प्रश्न 200 नंबर के होते हैं जबकि दूसरे पेपर में Social Studies से 100 प्रश्न पूछे जाते हैं और यह प्रश्न भी 200 नंबर के होते हैं।

• मुख्य परीक्षा : जो उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा को पास कर लेते हैं उनका चयन मुख्य परीक्षा के लिए किया जाता है इस परीक्षा में उम्मीदवार द्वारा चुने गए दो ऑप्शनल सब्जेक्ट में से 4 पेपर होते हैं।  प्रश्न पत्रों में से सामान्य हिंदी और निबंध के लिए 150-150 अंकों के 2 पेपर और सामान्य अध्ययन में भी दो पेपर 200-200 अंकों के पूछे जाते हैं।

•  इंटरव्यू : जो उम्मीदवार BDO पद के लिए आयोजित दोनों लिखित परीक्षाओं में पास हो जाते हैं, उन्हें इसके बाद इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। इंटरव्यू में उम्मीदवार से कई तरह के सवाल-जवाब किये जाते हैं। इसके बाद लोक सेवा आयोग द्वारा एक मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है, इस मेरिट लिस्ट में ही चुने गए उम्मीदवार को BDO पद के लिए नियुक्त किया जाता है।

BDO पद के लिए Age Limit :-

एक BDO बनने के लिए आवेदन करने वाले उमीदवार की कुछ उम्र सीमा तय की गई है जिसमें उम्मीदवार की न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष और अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष होनी चाहिए, परंतु OBC के उम्मीदवारों के लिए इस आयु सीमा में अतिरिक्त 3 वर्षों की छूट जबकि SC या ST के उम्मीदवारों के लिए 5 वर्षों की अतिरिक्त छूट दी गई है।

Responsibilities Of BDO :-

एक BDO की अपने प्रखंड के अंतर्गत बहुत सारी जिम्मेदारियाँ होती है जिसके निर्वहन के लिए उसे चयनित किया जाता है जो कुछ इस प्रकार हैं –

•    कृषि शिक्षा एवं कृषि आपूर्ति का वितरण : एक BDO को शिविरों, व्यक्तिगत वार्ता, समूह की बैठकों और प्रदर्शन के माध्यम से जनता को कृषि शिक्षा प्रदान करना चाहिए । इसका मतलब यह है कि इसमें गांव वालों को उर्वरकों, उन्नत बीजों और कीटनाशकों के उपयोग के बारे में बताना है।

•    उत्पादन योजना एवं संबद्ध सेवाएं : ग्राम पंचायतों को अपने उत्पादन कार्यक्रमों को तैयार करने, उन्हें निष्पादित करने और उनकी समीक्षा करने में मदद करना एक BDO की जिम्मेदारी होती है। वह ऊपर से निर्देशों के अनुसार योजना तैयार करता है, ग्राम सभा की बैठकों को बुलाता है, ग्राम सभा को योजना की व्याख्या करता है और ग्राम सभा द्वारा योजना के सुधार के बाद इसे ग्राम योजना के रूप में परिवर्तित करता है।

BDO एक्सटेंशन ऑफिसर की मदद से और ऋण या सब्सिडी के लिए आवेदनों में तेजी लाकर तकनीकी और वित्तीय सहायता प्रदान करता है।

•    सहकारी समितियों एवं अन्य सहायक एजेंसियों का आयोजन : एक BDO के कहने पर ग्राम स्तर का कार्यकर्ता सहकारी समितियों, युवा क्लबों, मंदिरों और महिला मंडलों का आयोजन करता है तथा अक्सर बैठकों का आयोजन करते रहता है जिसमें आम लोगों की समस्या को सुना एवं उसे हल किया जाता है।

•    विविध कार्य : पहले से चयनित किए गए कार्यों के अलावा उन्हें कुछ विविध कार्य सौंपे गए हैं जैसे कि चिकित्सा, प्राथमिक चिकित्सा की आपूर्ति, सर्वेक्षण करना, छोटे बचत अभियानों में भाग लेना और आकस्मिक प्रकृति के अन्य कार्यों की समीक्षा करना।

•    पंचायत समिति एवं ग्राम सभा की बैठकों में भाग लेना। ऐसे कई जिम्मेदारियाँ एक BDO को सौंपी जाती है।

BDO Salary

BDO Officer Salary राज्य लोक सेवा आयोग (State Public Service Commission) द्वारा तय किया जाता है। BDO Salary Per Month 9,500/- से लेकर 35,800/- रुपये तक होती है। हर राज्य के लिए बीडीओ अधिकारी पद की Salary अलग-अलग रखी गई है।

Conclusion

तो दोस्तों, आपको  के बारे में जानकारी हिंदी में। अच्छी लगी होगी हमे उम्मीद है इस पोस्ट को पढ़ कर आप BDO full form In Hindi (BDO मीनिंग इन हिंदी) समझ गए होंगें और अब अगर आपसे कोई पूछेगा कि BDO का मतलब क्या होता है? तो अब आप उसे BDO मीनिंग इन हिंदी बता सकेंगे।

अगर आपको हमारा ये BDO Information In Hindi पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share कीजिए और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल हो, तो उसे Comment में लिख कर हमें बताए।


Spread the love
  • 1
    Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  

Leave a Comment