X
    Categories: Gadgets

AC FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है AC, पूरी जानकारी

Ac full form

AC Full Form in Hindi, AC Ka Pura Naam Kya Hai, AC क्या है, AC Ka Full Form Kya Hai, AC का Full Form क्या है,  AC meaning, AI क्या क्या कार्य होता है। इन सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में दिया जाएगा। 

दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है हमारे नए आर्टिकल AC full form in Hindi में। AC क्या होता है और AC का use हम कब करते हैं और कैसे इसका उपयोग किया जाता है। यदि आप अब तक नहीं जानते हैं कि AC full form in Hindi  क्या है और इसके बारे में जानने के लिए आप काफी उत्साहित हैं, तो हम इस आर्टिकल में आपके लिए AC full form in Hindi के साथ- साथ हम पूरी जानकारी लेकर आए हैं, जिसके माध्यम से आप AC की पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

AC full form क्या होता है? इसे जानने के लिए आप इस पोस्ट को अंत तक पढ़े क्योंकि यहां हमने AC full information की संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई है ऐसी के अंतर्गत हम निम्नलिखित बातें बताने वाले हैं: –

AC का फुल फॉर्म क्या है? (AC FULL FORM IN HINDI)

AC का फुल फॉर्म Air conditioner होता है। Air conditioner एक ऐसी इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली होती है जो हवा को फिल्टर करती है। एयर कंडीशनर से गर्म हवा को खत्म करके बिल्कुल ठंडी हवा बाहर निकलती है। AC की क्षमता को ब्रिटिश थर्मल यूनिट में मापा जाता है। British thermal unit का short form (BTU) होता है। Air conditioner का आविष्कार सन 1902 ईसवी में willis Havilland carrier (विल्स हाविलैंड करियर) ने किया था। AC के दो अलग-अलग भाग होते हैं एक भाग घर के बाहर लगता है और दूसरा भाग कमरे के अंदर लगता है। एयर कंडीशनर को अंग्रेजी में हम AC के नाम से जानते हैं और हिंदी में हम वातानुकूलित एवं एयर कंडीशनर के नाम से जानते हैं।

LCD FULL FORM IN HINDI – जानिए क्या है LCD, पूरी जानकारी।

AC क्या है? (what is AC in Hindi?)

AC को Alternating Current भी कहा जाता है। जिसे हिंदी में प्रत्यावर्ती धारा कहते हैं। प्रत्यावर्ती धारा एक विद्युत प्रभाव होता है जो प्रवाह के रूप में लगातार दिशा बदलती है। इस प्रकार के current की प्रक्रिया में , करंट एक निश्चित समय के बाद ही अपना डायरेक्शन और वैल्यू बदलता है इसलिए इस प्रकार के करंट को अल्टरनेटिंग करंट कहा जाता है। अल्टरनेटिंग करंट का उत्पादन अधिक से अधिक करंट volt पैदा करने के लिए की जाती है।

यह लगभग 33000 वोल्ट तक बिजली पैदा करती है। इस करंट को आप जहां पर भी भेजना चाहते हैं आप वहां भेज सकते हैं और वोल्टेज को आवश्यकतानुसार कम या ज्यादा कर सकते हैं। यह करंट ज्यादा महंगी नहीं होती है क्योंकि एसी करंट को आसानी से जनरेट किया जा सकता है इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इसे ट्रांसफर की मदद से कम या ज्यादा किया जा सकता है इसलिए अल्टरनेटिंग करंट को ज्यादा दूर तक भेजा जा सकता है। अल्टरनेटिंग करंट से इंजीनियरिंग फील्ड में ड्रिल मशीन, मशीनरी और अन्य  उपकरण भी चलाए जाते हैं। हमारे किचन, कमरों में भी mixer, washing machine, motor, bulb, heater, grinder, fridge, juicer, microwave, oven induction, cooktop, water pump, cooler or fan, LED LCD में भी  AC current का उपयोग किया जाता है। आज के समय में अल्टरनेटिंग करंट का उपयोग रेल गाड़ियों को भी चलाने में किया जाता है।

AC की जानकारी (information about AC in Hindi)

Ac, air conditioner एक प्रकार का मशीन होता है जो एक रेफ्रिजरेशन साइकिल के अंतर्गत काम करता है और किसी खास बंद एरिया में गर्म हवा को बाहर निकालता है और उसे ठंडी हवा में बदल देता है। इसकी बनावट विभिन्न भागों से मिलकर बना होता है जिसे मुख्य तौर पर HVAC  के नाम से जाना जाता है। इसके अंतर्गत hiting, वेंटीलेशन, और एयर कंडीशनिंग आते हैं। आजकल AC  का गाड़ियों, एटीएम, बैंक आदि में इसका उपयोग किया जाता है। यह में गर्मी से छुटकारा दिलाकर ठंडी हवा के रूप में आराम प्रदान करता है इसका मुख्य उद्देश्य होता है कि कमरे को ठंडा रखना जो कि तापमान को बदलकर प्राप्त किया जाता है। प्रत्येक एयर कंडीशनर अलग-अलग  जगहों एवं अलग-अलग कारणों के लिए बने होते हैं। AC की यूनिट 6 प्रकार की होती है:-

1. Basic Central AC

2. Ductless

3. Window unit

4. Portable unit

5. Hybrid

6. भूतापीय एयर कंडीशनर

Air Conditioner के कार्य:

Air Conditioner का मुख्य कार्य रूम के अंदर की हवा को ठंडा करना होता है। जब आप AC को On करते हैं और कोई टेंपरेचर सेट करते हैं तो AC में लगा थर्मोस्टेट वातावरण के तापमान और जो आपने टेंपरेचर सेट किया है उसका डिफरेंस निकालकर उसी के हिसाब से ऐसी ऑटोमेटिक काम करने लगता है। जिस जगह पर ऐसी लगा होता है वह वहां की गर्म हवा filter करके उसे अपने अंदर लगे रेफ्रिजरेंट और coils से process करता हुआ ठंडी हवा को बाहर निकलता है जिससे कि उस जगह की गर्म हवा ठंडी हवा में बदल जाती है और उस जगह पर टेंपरेचर कम हो जाता है।

AC के अन्य जरूरी Full Form in Hindi :

AC के Air conditioner और Alternating current के अतिरिक्त और भी कई अन्य फुल फॉर्म होते हैं। वे इस प्रकार से हैं:-

  1. AC-Acoustic coupler
  2. AC-Advisory circular
  3. AC- Advanced audio coding
  4. AC- All clear
  5. AC-Automatic call back
  6. AC-Area code
  7. AC-Application context
  8. AC-active count
  9. AC- Automatic control
  10. AC-Always crap
  11. AC- Auto-configuration
  12. AC-Air conditioning
  13. Audio code
  14. Auto carriers
  15. Authorisation center
  16. Aerodynamic code
  17. Acceptable content
  18. Amplifier combination etc.

आज के समय में हर क्षेत्र में प्रत्यावर्ती धारा का उपयोग किया जा रहा है इसकी मदद से लगभग सभी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक से संबंधित कार्यों को किया जाता है। इस दुनिया को इतना ज्यादा आगे तथा एडवांस बनाने में प्रत्यावर्ती धारा का एक बहुत बड़ा योगदान रहा है। AC वोल्टेज का उत्पादन करते हैं और समय के साथ नेगेटिव तथा पॉजिटिव के बीच उलट, ध्रुवीयता में वैकल्पिक होते हैं। एक अल्टरनेटर में, चुंबकीय क्षेत्र के अंदर तार का एक लूप तेजी से घूमता रहता है और यह तार के साथ एक विद्युत प्रवाह उत्पन्न करता है। जैसे -जैसे तार घूमता है वैसे वैसे एक अलग चुंबकीय ध्रुवता में प्रवेश करता है और वोल्टेज तथा तार पर करंट वैकल्पिक होता है। यह करंट समय-समय पर दिशा बदलता रहता है और सर्किट में वोल्टेज भी समय-समय पर उलट जाता है क्योंकि करंट की दिशा बदल जाती है।

Diwakar Prajapati: